Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana: अपने घर तक पक्की सड़क बनवाने के लिए, यहां से आवेदन करें

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना की शुरुआत 2000 में हुई थी, जो कि तत्कालीन प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी द्वारा आरंभ की गई थी। इस योजना का मुख्य उद्देश्य भारत में शहरी-ग्रामीण विभाजन को कम करना था और इसके तहत प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) की शुरुआत की गई थी।

अब तक इस योजना के तीन चरण पूरे हो चुके हैं। इस लेख में प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी और सड़क निर्माण के लिए आवेदन की प्रक्रिया का विस्तृत वर्णन किया गया है।

Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana

हमारे देश की अधिकांश जनसंख्या गाँवों में निवास करती है। 2000 तक गाँवों में सड़क परिवहन की कोई सुविधा नहीं थी। इसलिए, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी ने ग्रामीण विकास के उद्देश्य से ग्राम सड़क योजना की शुरुआत की। इस योजना का अब तक तीन चरणों में कार्य हो चुका है। वर्तमान में, इस योजना का तीसरा चरण प्रारंभ किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना का उद्देश्य

  • ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षा, स्वास्थ्य, और रोजगार जैसी आवश्यक सुविधाओं को प्रोत्साहित करना।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में नए रोजगार के अवसर प्राप्त कराना।
  • शहरी-ग्रामीण विभाजन को कम करना।
  • ग्रामीण से शहरी क्षेत्रों में यातायात का समय कम करना।
  • दूरस्थ क्षेत्रों में जीवन की गुणवत्ता को बढ़ाना।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में छोटे व्यवसायों को प्रोत्साहित करने के लिए नए अवसर प्रदान करना।
  • गाँवों और ढानियों को बड़े बाजारों से जोड़ना।

पीएमजीएसवाई योजना का क्रियान्वयन

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत, देश के हर गाँव, ढाणी, और दूरस्थ क्षेत्रों को शहरों से सड़कों के माध्यम से जोड़ा जा रहा है। यह योजना केंद्र सरकार की एक योजना है, लेकिन इसका कार्यान्वयन केंद्र सरकार राज्य सरकारों के साथ संयुक्त रूप से करती है। इस योजना के कुल लागत में केंद्र सरकार की 60% और राज्य सरकार की 40% योजना की वित्तीय सहायता मिलती है। अब तक, इस योजना के दो चरण पूर्ण हो चुके हैं और वर्तमान में तीसरा चरण क्रियान्वित किया जा रहा है। इन चरणों के बारे में विवरण नीचे दी गई सारणी में उपलब्ध है।

पीएमजीएसवाई योजना विस्तार से

  • प्रथम दिसंबर 2000: इस अवधि में 1,35,436 गाँवों को लक्षित किया गया। उद्देश्य – ग्रामीण बस्तियों को शहर से जोड़ना और खेत-से-बाज़ार संबंध सुनिश्चित करना।
  • द्वितीय मई 2013: कुल लागत का 75% केंद्र और 25% राज्य सरकार द्वारा वहाँ किया गया।
  • 2022: तक 50,000 किलोमीटर सड़क निर्माण का लक्ष्य निर्धारित किया गया। मौजूदा सड़कों की मरम्मत तथा पुनर्निर्माण।
  • तृतीय जुलाई 2019: बस्तियों को विद्यालयों, अस्पतालों और बाजारों से जोड़ना।
  • 2025: तक 1,25,000 किमी सड़क निर्माण का लक्ष्य रखा गया। उद्देश्य – ग्रामीण इलाक़ों में समग्र सामाजिक-आर्थिक विकास को बढ़ावा देना।

घर बैठे 2 मिनट में अपने आधार कार्ड में पता बदले, यहां देखें पूरी जानकारी

PMGSY Online आवेदन कैसे करें?

अगर आप अपने क्षेत्र में खराब सड़क की मरम्मत कराना चाहते हैं या नई सड़क बनवाना चाहते हैं, तो आप प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए नीचे दिए गए निर्देशों का पालन करें।

  • सबसे पहले अपने मोबाइल फोन में ‘Meri Sadak’ ऐप डाउनलोड करें।
  • ऐप को खोलें और साइन इन करें।
  • अपने मोबाइल नंबर का उपयोग करके ऐप में साइन इन करें।
  • यदि आप पहली बार ऐप का उपयोग कर रहे हैं, तो अपना नाम, पासवर्ड, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी और पता दर्ज करें।
  • अब ऐप में ‘रजिस्टर फीडबैक’ विकल्प चुनें।
  • आपको ऑनसाइट और ऑफसाइट का विकल्प दिखाई देगा।
  • यदि आप सड़क की लोकेशन पर हैं, तो ऑनसाइट विकल्प चुनें।
  • इससे आपको जीपीएस द्वारा लाइव लोकेशन पर टैग किया जाएगा।
  • अब ऐप में सड़क स्थल की लाइव फोटो अपलोड करें।
  • यदि आप सड़क निर्माण स्थल पर नहीं हैं, तो ऑफसाइट विकल्प चुनें और अपने फोन की गैलरी से फोटो अपलोड करें।
  • इसके बाद उचित सुझाव लिखकर सबमिट करें।
  • सरकार द्वारा अधिकारियों की मदद से सड़क निर्माण स्थल की जांच की जाएगी।
  • इसके बाद सड़क निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

Leave a Comment

Floating Telegram Button Telegram Icon