नाबार्ड योजना 2024: डयेरी फार्मिंग के लिए 50% सब्सिडी, यहाँ से आवेदन करे

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

नाबार्ड योजना का आयोजन केंद्र सरकार द्वारा किया गया है ताकि देश के ग्रामीणों को रोजगार के अवसर प्राप्त करने में मदद मिले। इस योजना के अंतर्गत, सरकार गांवों के लोगों को डेयरी फार्मिंग के लिए कम ब्याज दर पर ऋण प्रदान करेगी। बैंक द्वारा ऋण प्रदान किया जाएगा और पशुपालन विभाग आधुनिक डेयरी स्थापित करेगा। नाबार्ड डेयरी फार्मिंग से संबंधित सम्पूर्ण जानकारी इस पोस्ट में उपलब्ध है।

नाबार्ड योजना क्या है?

कोरोना वायरस के प्रभाव से प्रभावित देश के किसानों को राहत पहुंचाने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक नई घोषणा की है। उन्होंने नाबार्ड योजना के अंतर्गत देश के किसानों को 30,000 करोड़ रुपये की अतिरिक्त पुनर्वित्त सहायता प्रदान करने का निर्णय लिया है। इस योजना से लाभान्वित होने वाले परिश्रमी किसानों को यह धन कोऑपरेटिव बैंक के माध्यम से प्रदान किया जाएगा। इस सहायता से लगभग 3 करोड़ किसानों को लाभ मिलेगा।

डयेरी फार्मिंग योजना

ग्रामीण क्षेत्रों में बेरोजगार व्यक्तियों को स्वरोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए डेयरी फार्मिंग योजना 2024 के तहत कदम उठाए जाएंगे। उत्पादन से लेकर गाय और भैंसों की देखभाल, गायों की सुरक्षा और घी निर्माण तक, सभी कार्य मशीनों के सहारे से होंगे। जो लोग इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, उन्हें इस नाबार्ड योजना के तहत आवेदन करना होगा।

घर बनाने के लिए मिल रहे 1 लाख 20 हजार रुपए

नाबार्ड योजना का उद्देश्य

केंद्र सरकार द्वारा नाबार्ड योजना की शुरुआत का मुख्य उद्देश्य डेयरी उद्योगों को व्यवस्थित करना है, जिससे स्वरोजगार के अवसर पैदा हो और डेयरी क्षेत्र में अधिक सुविधाएं उपलब्ध हों। हमारे देश में ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले बहुत से लोग आज भी डेयरी फार्मिंग से अपनी आजीविका चलाते हैं।

नाबार्ड डेयरी योजना के तहत बैंक सब्सिडी

  • दूध उत्पाद (दूग्ध प्रोडक्ट) निर्माण के लिए एक इकाई की शुरुआत करने के लिए, डेयरी उद्यमिता विकास योजना के अंतर्गत भी सब्सिडी प्रदान की जाती है।
  • नाबार्ड डेयरी योजना 2024 के अनुसार, आप दूध उत्पाद की प्रोसेसिंग के लिए आवश्यक उपकरण खरीद सकते हैं।
  • अगर आप इस मशीन की खरीद करते हैं, जिसकी मूल्य 13.20 लाख रुपये है, तो आपको 25% (3.30 लाख रुपये) की सब्सिडी मिल सकती है।
  • अगर आप अनुसूचित जाति या अनुसूचित जनजाति से हैं, तो आपको 4.40 लाख रुपये की सब्सिडी भी मिल सकती है।
  • यह योजना ऋण के लिए बैंक द्वारा मंजूर किया जाएगा, जिसका 25% लाभार्थी द्वारा भुगतान किया जाएगा।
  • सरकार इसके लिए 50% सब्सिडी प्रदान करेगी, और बाकी का भुगतान किसानों को बैंक के माध्यम से करना होगा, जो 50% की विभिन्न किस्तों में होगा।

डेयरी फार्मिंग के लिए 10 लाख का सरकारी लोन

Nabard Dairy Farming Yojana 2024

पहली योजना के अंतर्गत, ग्रामीण क्षेत्रों में लाल सिन्धी, साहिवाल, राठी, गिर आदि प्रजातियों की देसी गायों के लिए एक छोटे डेयरी यूनिट स्थापित करने का विचार है।

निवेश के रूप में, इस डेयरी की स्थापना के लिए कम से कम ₹5,00,000/- की आवश्यकता होगी, जो कम से कम 2 पशुओं से लेकर अधिकतम 10 पशुओं की डेयरी के लिए है।

इस योजना के अन्तर्गत, 10 पशु डेयरी पर 25% की सब्सिडी प्रदान की जाएगी। इसके साथ ही, एससी/एसटी किसानों के लिए सब्सिडी की राशि में 33.33% की रूपरेखा है। अधिकतम अनुमति पूंजी सब्सिडी ₹1.25 लाख रुपये है, जो अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के किसानों के लिए ₹1.67 लाख रुपये है।

दूसरी योजना के तहत, बछिया पालन के लिए, 20 बछियां खरीदने का विचार है। इसके लिए, लोगों को कम से कम 20 बछियां पालने के लिए ₹80 लाख का निवेश करना होगा।

सब्सिडी के माध्यम से, 20 बछियां तक की यूनिट को 25% तक की सब्सिडी प्रदान की जाएगी, जिसकी मात्रा ₹1,25,000/- तक हो सकती है। अधिकतम सब्सिडी अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के लिए ₹1,60,000/- तक होगी।

तीसरी योजना के तहत, वर्मीकंपोस्ट और खाद तैयार करने के लिए, जो दूध पशुओं के साथ संयुक्त नहीं होगा, निवेश की आवश्यकता बीस हजार रुपये तक हो सकत

नाबार्ड योजना के लिए पात्रता

  • इस योजना से किसान, व्यक्तिगत उद्यमी, गैर संकरी संगठन, कंपनियां, असंगठित और संगठित क्षेत्र समूह आदि को लाभ हो सकता है।
  • एक व्यक्ति केवल एक बार ही इस योजना का लाभ उठा सकता है।
  • योजना के अंतर्गत एक ही परिवार के अधिक सदस्य सहायता प्राप्त कर सकते हैं, लेकिन उन्हें इसके लिए अलग-अलग आधारभूत संरचनाओं के साथ अलग इकाइयों की स्थापना करनी होगी।

नाबार्ड योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

  • नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट नाबार्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर इनफॉरमेशन सेंटर (सूचना केंद्र) के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • वहाँ आपको अपनी संबंधित योजना के आधार पर फॉर्म की पीडीएफ फाइल डाउनलोड करने का विकल्प मिलेगा।
  • इस आवेदन फार्म को भरें और साथ में आवश्यक दस्तावेजों को अटैच करें।
  • फिर आवेदन फार्म को संबंधित नजदीकी बैंक में जमा करवाएं।
  • अधिक जानकारी के लिए आप जिले के नाबार्ड ऑफिस या बैंक से संपर्क कर सकते हैं।

2 thoughts on “नाबार्ड योजना 2024: डयेरी फार्मिंग के लिए 50% सब्सिडी, यहाँ से आवेदन करे”

Leave a Comment

Floating Telegram Button Telegram Icon